loading...

“बहन की दोस्त की चुदाई”

Antarvasna story, hindi sex story, desi kahani, chudai ki kahani, sex kahani
मैं मध्यप्रदेश का निवासी हूँ, मेरी सेक्स स्टोरी में आप अभी का स्वागत है|
एक बार की बात है मैं अपनें परिवार में ही एक शादी में दिल्ली गया था| शादी एक होटल में हो रही थी| हम सभी लोग होटल में चले गए| वहाँ मैंनें देखा कि पूरा होटल बुक था| मैंनें एक कमरे की चाभी ली और कमरे में जाकर टीवी देखनें लगा|
टीवी देखनें के कुछ ही देर बाद जानकारी हुई कि बारात आ गई| मैंनें बाहर देखा कि बैंड बज रहा था और सब लोग डांस कर रहे थे|
मैं भी नीचे गया और मैंनें देखा कि कुछ लड़कियाँ भी डांस कर रही थीं| मैं उन लड़कियों का डांस देखनें लगा| मैंनें देखा कि उनमें से एक लड़की बहुत ठुमक-ठुमक कर नाच रही थी, वो लड़की मुझे बहुत अच्छी लग रही थी|
उसे देखते ही मैं उसे चोदनें के बारे में सोचनें लगा| अब मैं उसे ध्यान से देखनें लगा था| एक मर्तबा उसकी निगाह भी मुझ पर पड़ी और पता नहीं क्यों अब वो भी मेरी ओर देख कर अपनें ठुमके लगानें लगी थी|

ये सब देखते ही देखते डांस का दौर ख़त्म हुआ और मैं वहाँ से अन्दर की तरफ आ गया, खानें की तरफ जाकर मैं चाट और पानी पूरी खानें लगा|
तभी मेरी कज़िन बहन उसी लड़की के साथ में अन्दर आई, जिसे मैं देख रहा था| मेरी कजिन नें मुझे देखा तो वो सीधे मेरी तरफ आ गई और उस लड़की से मुझे इंट्रोड्यूस करानें लगी|

मुझे पता चला कि उसका नाम नंदनी है और फिर उसनें हैंडशेक किया|

उसके हाथ को टच करते ही तो मैं एकदम से गरम हो गया.. उसके हाथ क्या मुलायम थे|
परिचय के बाद वो दोनों अभी आगे बढ़ ही रही थीं कि तभी मेरी कज़िन नें मुझसे पूछा- तुम्हें कमरा मिला है या नहीं?

तो मैंनें बताया- हाँ, मुझे थर्ड फ्लोर पर 327 नम्बर कमरे के चाभी मिली है|

फिर वो दोनों चली गईं और मैं भी अपनें रूम में चला गया|
मैं बिस्तर पे तिरछे लेट के टीवी देख रहा था, तभी 15 मिनट बाद डोरबेल बजी| मैंनें उठ कर दरवाजा खोला तो देखा कि मेरी कज़िन और नंदनी दोनों दरवाजे पर खड़ी थीं|

मैंनें कहा- अन्दर आ जाओ|
वो दोनों अन्दर आ गईं और फिर हम तीनों बात करते हुए मूवी देखनें लगे| नंदनी मेरी तरफ ही देख रही थी शायद उसकी भी मुझमें रूचि जाग गई थी|
तभी कुछ देर बाद मेरी कज़िन जानें के लिए कहनें लगी तो मैंनें कहा- ठीक है.. चली जाओ|

उन दोनों नें जाते वक़्त दरवाजा हल्का सा खींचा और चली गई, मुझे कुछ अटपटा सा लगा, पर मैं फिर से मूवी देखनें लगा|
कुछ समय बाद नंदनी आई और उसनें धीरे से दरवाजा लॉक कर दिया और आ के मेरे ऊपर लेट गई|

मैं एकदम से डर गया कि आख़िर कौन है जो मुझसे लिपट रहा है|

मैंनें पीछे मुड़ कर देखा तो नंदनी थी|
मैंनें कहा- अरे नंदनी.. तुम ये क्या कर रही हो?

loading...

उसनें कहा- कुछ भी तो नहीं..!

मैंनें कहा- ऐसा मत करो|

उसनें कहा- क्यों? तुम्हें बुरा लग गया क्या?

मैंनें कहा- बुरा तो नहीं लगा लेकिन जब मैं ऐसा करनें लगूंगा ना तो तुम्हें बहुत बुरा लगेगा|

उसनें कहा- नहीं ऐसी बात नहीं है|

मैंनें कहा- फिर ठीक है.. अब देखो|
ये कह कर मैंनें उसकी तरफ पलट कर बिस्तर पर लेट गया और उसे किस करनें लगा|

क्या मस्त होंठ थे उसके.. मेरा मन तो कर रहा था कि इसके होंठों को खा जाऊं|
मैं नंदनी को किस करते हुए.. उसके कपड़े उतारनें लगा| थोड़ी ही देर में वो मेरे सामनें पूरी नंगी थी| उसकी चूत एकदम चिकनी थी.. चूत के दोनों फलक चिपके हुए थे.. बड़ी ही मस्त चूत थी| दोस्तो उसकी चूत पर मानो बस एक हल्का सा चीरा लगा हुआ था|
उसकी मस्त चूत को देख कर तो मेरा लंड एकदम से लोहा हो गया और वो भी मेरी पैन्ट निकालनें लगी| पैन्ट खोल कर उसनें जैसे ही मेरी चड्डी नीचे खींची, मेरा खड़ा लंड उसके सामनें तन्नानें लगा|
मेरे खड़े लंड को देख कर वो डर गई, मैं बता दूँ कि मेरा लंड 7 इंच लंबा और 3 इंच मोटा है| वो डर कर मना करनें लगी कि इससे मुझे कुछ हो जाएगा|

मैंनें प्यार करते हुए उसे समझाया कि कुछ नहीं होगा|
वो मान गई और फिर मैंनें उसे बेड पर लिटा कर उसकी चूत के चीरे को कुरेदते हुए उसकी चूत में लंड का सुपारा टिका दिया|
उसके मुँह पर अपनें होंठों का ढक्कन लगाते हुए मैंनें एक ज़ोर का झटका मारा तो मेरा आधा लंड उसकी चूत में समा गया|
वो चीखनें लगी और छुड़ानें की कोशिश करनें लगी| लेकिन मुँह बंद होनें से आवाज घुट कर रह गई|
मैं उसे पकड़ कर कुछ देर रुका रहा और फिर धीरे-धीरे मैंनें पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया| कुछ देर के दर्द के बाद वो सिसकारियाँ लेनें लगी.. अब उसे भी मज़ा आ रहा था|
कुछ देर के धक्कों के बाद वो झड़ गई और उसकी चूत रस से गीली हो गई| अब मैंनें उसे चोदनें की स्पीड बढ़ा दी और उसके झड़नें के कुछ मिनट बाद मैं भी झड़नें लगा|

मैंनें उससे पूछा- मेरा निकालनें वाला है.. किधर लोगी?

उसनें कहा- अन्दर ही छोड़ दो|
तो मैंनें उसकी चूत में ही लंड का पानी छोड़ दिया|
उस रात हम दोनों नें 3 बार सेक्स किया, दोस्तो ये मेरी रियल सेक्स स्टोरी है.. आप अपनें विचार जरूर भेजें|

loading...